तीन साल से दरिंदगी कर रहा था मदरसा मैनेजर, पीड़िता ने सिसकते हुए सुनाई जुल्‍म की कहानी

0
192

तीन साल से दरिंदगी कर रहा था मदरसा मैनेजर, पीड़िता ने सिसकते हुए सुनाई जुल्‍म की कहानी

लखनऊ के सआदतगंज के यासीनगंज स्थित मदरसा खदीज़तुल कुबरा लिलबनात से मुक्त कराई गईं 52 लड़कियों में से बहराइच की एक पीड़िता खुलकर सामने आ गई है। 10वीं की इस छात्रा ने मैनेजर कारी तैय्यब जिया पर कमरे में बुलाकर उसके साथ अक्सर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए शनिवार को केस दर्ज कराया है। इससे पहले 5 छात्राओं ने कारी पर छेड़खानी व प्रताड़ना और मदरसा संस्थापक सैयद मोहम्मद जिलानी अशरफ ने जालसाजी का केस दर्ज कराया है।

पुलिस ने पीड़ित 6 छात्राओं का मेडिकल कराने के साथ आरोपी मैनेजर कारी को कोर्ट में पेश किया। कारी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। सीओ बाजार खाला अनिल यादव ने बताया कि एक छात्रा ने आरोपी की करतूत बताते हुए कहा कि मैनेजर अक्सर उसे कमरे में बुलाकर दरिंदगी करता था। किसी से शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देता था। महिला पुलिसकर्मियों ने पीड़िता का यह बयान वीडियो कैमरे में दर्ज किया।

सिसकते हुए सुनाई जुल्म की कहानी
मदरसा मैनेजर की शर्मनाक करतूत का भांडा फोड़ने वाली दो छात्राएं बयान दर्ज कराने के दौरान रो पड़ीं। बोलीं कि कारी तैय्यब जिया उन्हें कमरे में बुलाता था। पैर दबवाने के साथ अश्लील हरकतें करता था। मना करने पर पीटता था। दोनों ने चार अन्य लड़कियों की तरफ इशारा करके कहा कि वह भी कारी की दरिंदगी का शिकार बनी हैं। सीओ का कहना है कि छह छात्राओं की मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है। उसके आधार पर मुकदमे में धारा बढ़ाई जाएगी।

बिना मान्यता के चल रहा था मदरसा
यौन शोषण से घिरे मदरसा खदीजातुल कुबरा लिलबनात को मदरसा बोर्ड से मान्यता भी नहीं मिली थी। बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता ने बताया कि बोर्ड का उस पर कोई नियंत्रण भी नहीं है। शहर में 500 से ज्यादा मदरसे हैं। इनमें 220 को ही मान्यता मिली है। 18 को ही अनुदान मिल रहा है।

मैनेजर पर लगेगा रासुका
एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि पांच छात्राओं की तहरीर पर मदरसा मैनेजर कारी तैय्यब जिया अशरफ के खिलाफ शीलभंग, मारपीट व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया। मदरसा संस्थापक की तहरीर पर जालसाजी, छात्राओं को बंधक बनाने, गालीगलौज, जानमाल की धमकी व 7 क्रिमिनल लॉ अमेडमेंट एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई थी। मदरसे की एक छात्रा ने दुष्कर्म व जानमाल की धमकी का केस दर्ज कराया है। मदरसे के मैनेजर की करतूत से समाज शर्मसार हुआ है। उसे रासुका में निरुद्ध कराया जाएगा।

तीन साल से दरिंदगी कर रहा था मैनेजर
बहराइच की रहने वाली छात्रा ने दुष्कर्म व जानमाल की धमकी का केस दर्ज कराते हुए पुलिस को जानकारी दी कि तीन साल पहले मैनेजर ने उससे छेड़छाड़ शुरू की थी। धमकी व लोकलाज के डर से चुप रही। इस पर एक दिन मैनेजर ने कमरे में बंद करके दुष्कर्म किया। किसी से शिकायत न करने पर वह आए दिन कमरे में बुलाकर दरिंदगी करने लगा। उसके सामने लड़कियों की पिटाई व छेड़छाड़ करता था।

पुराने शहर में बढ़ाई चौकसी
आईजी रेंज जय नरायन सिंह ने बताया कि मदरसा मैनेजर की करतूत से नागरिकों में रोष को देखते हुए पुराने शहर में चौकसी बढ़ाई गई है। पुलिस व पीएसी की टीम को सआदतगंज, बाजार खाला व चौक इलाके में मुस्तैदी से गश्त के आदेश दिए गए हैं।

सुबूत की तलाश में मदरसा खंगालेगी पुलिस
एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि मदरसा मैनेजर कारी तैय्यब जिया की गिरफ्तारी व 52 छात्राओं को मुक्त कराने के साथ शुक्रवार रात मदरसा सील कर दिया गया था। छात्राओं के बयान दर्ज किए गए हैं और पुलिस की टीम रविवार को सुबूत की तलाश में मदरसा खंगालेगी। छात्राओं के बयान के अनुसार मैनेजर के कमरे से आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद होने का अनुमान लगाया जा रहा है। मदरसे में सीतापुर, बहराइच, कानपुर, संतकबीरनगर, बाराबंकी के साथ नेपाल की दो और बिहार की नौ छात्राएं रह रही थीं। छात्राओं के परिवारीजनों को बुलाकर उन्हें सौंपा जा रहा है, अभी 37 छात्राएं महिला शरणालय में हैं।

मंत्री ने दिए सख्त कार्रवाई के निर्देश
महिला कल्याण मंत्री प्रो रीता बहुगुणा जोशी शनिवार राजकीय महिला शरणालय पहुंची और मदरसे की छात्राओं का हालचाल लिया और निष्पक्ष जांच के निर्देश दिए। मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि मदरसे में ली जाने वाली फीस के नियमों की जानकारी लेकर रिपोर्ट पेश करें।

ढांढस बंधाने के साथ तहकीकात
मदरसे से मुक्त कराई गई 52 छात्राओं में से दह ने पुलिस के आगे मैनेजर कारी तैय्यब जिया की करतूत बयां की। वहीं, 46 छात्राओं को ढांढस बंधाने के साथ महिला पुलिसकर्मियों की टीम तहकीकात में जुटी रही। सीओ बाजार खाला ने बताया कि तीन मुकदमें दर्ज होने से उनमें इंसाफ की उम्मीद जागी है और सआदतगंज पुलिस को किसी भी छात्रा की तहरीर मिलने पर केस दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here