संसद का शीतकालीन सत्र शुरू, नरेंद्र मोदी ने कहा- उम्मीद है सदन में बहस सकारात्मक होगी

0
71

नई दिल्ली। संसद का विंटर सेशन (शीतकालीन सत्र) शुक्रवार से शुरू हो गया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रिमंडल के नए मंत्रियों का परिचय सदन को कराया। इसके बाद लोकसभा की कार्यवाही 18 दिसंबर 11 बजे तक स्थगित कर दी। सत्र से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- “बहस अच्छी हो, इनोवेटिव हो और सकारात्मक हो तो ये देश के हित में होगा। लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने में हम कामयाब होंगे। लोकत्रंत मजबूत होगा।”

बता दें कि यह सेशन 5 जनवरी तक चलेगा।
संसद सत्र से पहले क्या बोले मोदी?
नरेंद्र मोदी ने कहा, ”सदन में अच्छी और सकारात्मक बहस हो। इनोवेटिव सुझावों के साथ बहस हो। संसद के समय का इस्तेमाल देश के लिए एक कारगर निबरता है। इसलिए मुझे भरोसा है। कल भी ऑल पार्टी मीटिंग हुई उसमें कहा गया कि देश को आगे बढ़ाने के लिए सदन को बेहतर तरीके से चलाया जाए। इससे देश को फायदा मिलेगा।”
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा- “पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री, उप राष्ट्रपति और डिप्लोमैट्स पर गुजरात चुनाव में पाकिस्तान के साथ साजिश करने का आरोप लगाया है। मोदीजी को संसद में इस पर सफाई देनी चाहिए।”
इस सेशन में आ सकते हैं 41 बिल
न्यूज एजेंसी, एएनआई के मुताबिक, इस विंटर सेशन में 41 बिल पर चर्चा हो सकती है। इसमें 40 बिल और एक फाइनेंशियल आइटम शामिल है। इसके अलावा, सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (कम्पनसेशन टू स्टेट) बिल 2017, द मुस्लिम वुमन ( प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरिज) बिल 2017 को पेश किया जा सकता है।
एक बजे होगी कैबिनेट मीटिंग
पार्लियामेंट में एक बजे कैबिनेट मीटिंग होगी। इसके अलावा, 4 बजे एनडीए की मीटिंग हो सकती है।

इन 5 मुद्दों पर हंगामे के आसार
1) जय शाह का मामला: कांग्रेस का आरोप है कि जय शाह की कंपनी केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद 50 हजार से कई करोड़ की हो गई।
2) राफेल डील: कांग्रेस का आरोप है कि यूपीए सरकार ने फ्रांस के साथ 54 हजार करोड़ रुपए में 126 राफेल जेट्स की डील की थी। इसमें टेक्नोलॉजी की डील भी शामिल थी। मोदी सरकार ने बिना टेक्नोलॉजी ट्रांसफर के 60 हजार करोड़ की बड़ी डील की, वह भी सिर्फ 36 राफेल के लिए।
3) EC का रवैया: कांग्रेस का आरोप है कि मोदी ने वोट डालने के बाद रोड शो किया। उसकी अपील पर इलेक्शन कमीशन कोई सख्ती नहीं दिखा रहा है। पार्टी का कहना है कि गुजरात चुनाव में इलेक्शन कमीशन का रवैया भेदभाव वाला रहा है।

4) गुजरात चुनाव में पाकिस्तान का मुद्दा: मोदी ने पालनपुर की रैली में कहा था कि 6 दिसंबर को कांगेस लीडर मणिशंकर अय्यर के घर कुछ पाकिस्तानी अधिकारियों ने मनमोहन सिंह के साथ एक सीक्रेट मीटिंग रखी थी। उनका कहना था कि पाकिस्तान के ऑफिसर कांग्रेस नेता अहमद पटेल को चीफ मिनिस्टर बनाना चाहते हैं।

5) संसद का सत्र बुलाने में देरी: कांग्रेस का आरोप है कि मोदी सरकार ने संसद का शीतकालीन सत्र बुलाने में बेवजह देरी की है। वह नहीं चाहती थी कि विपक्ष के सवालों में घिरने की वजह से गुजरात के चुनाव पर इसका कोई असर हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here