सुप्रीम कोर्ट ने बैंक अकाउंट और मोबाइल नंबर से आधार लिंक करने की तारीख 31 मार्च तक बढ़ाई

0
74

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बैंक अकाउंट और मोबाइल नंबर से आधार लिंक कराने की तारीख 31 मार्च तक बढ़ा दी है। बाकी सभी सरकारी स्कीम्स और सर्विस से आधार लिंक कराने पर केंद्र के प्रपोजल पर भी सहमति जताई है। आधार को स्कीम्स और सर्विस से लिंक करने को चुनौती देनी वाली पिटीशंस पर सुप्रीम कोर्ट ने यह इंटेरिम ऑर्डर दिया है। अब आधार की वैलिडिटी पर बेंच 17 जनवरी से सुनवाई करेगी।

मोबाइल नंबर से आधार लिंक करने की क्या तारीख रहेगी?
सुप्रीम कोर्ट ने मोबाइल नंबर से आधार लिंक करने की तारीख भी 31 मार्च तक बढ़ा दी है। पहले इसकी डेडलाइन 6 फरवरी थी।
बैंक अकाउंट खोलने वालों को क्या राहत मिली?
जिनके पास आधार नहीं हैं वे 31 मार्च तक नया अकाउंट बगैर आधार के खोल सकेंगे। हालांकि, उन्हें यह प्रूफ देना होगा कि वे आधार बनवाने के लिए एप्लाई कर चुके हैं।

कॉन्स्टीट्यूशन बेंच क्‍यों कर रही आधार मामले पर सुनवाई?
बैंक अकाउंट्स और मोबाइल नंबर से आधार नंबर को लिंक करना जरूरी किए जाने के नियम को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है।
इसमें कहा गया है कि यह नियम कॉन्स्टीट्यूशन के आर्टिकल 14, 19 और 21 के तहत दिए गए फंडामेंटल राइट्स को खतरे में डालता है।

कॉन्स्टीट्यूशन बेंच में कौन हैं जज, किसने दीं दलील?
चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एके सीकरी, एएम खानविलकर, डीवाई चंद्रचूड़ और अशोक भूषण की कॉन्स्टीट्यूशन बेंच ने इस मामले में गुरुवार दोपहर सुनवाई शुरू की।
पिटीशनर की तरफ से सीनियर एडवोकेट श्याम दीवान, गोपाल सुब्रमण्यम, अरविंद दातार, केटीएस तुलसी और आनंद ग्रोवर ने दलीलें रखीं। सरकार की तरफ से अटॉर्नी जनरल के वेणुगोपाल मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here