कोहली ने 30 साल बाद ऑस्ट्रेलिया से लिया टीम इंडिया की हार का बदला

0
59

नई दिल्ली : भारत और ऑस्ट्रेलिया की एम. ए. चिदंबरम स्टेडियम (चेपक) में 30 साल बाद भिड़ंत हुई। जब इससे पहले आखिरी बार एक दूसरे के खिलाफ वनडे मैच खेला था, तब विराट कोहली और स्टीव स्मिथ का जन्म भी नहीं हुआ था, जबकि रोहित शर्मा और डेविड वॉर्नर दुधमुंहे बच्चे थे। इस बार 17 सितंबर को ये दोनों टीमें 5 मैचों की सीरीज का पहला वनडे मैच खेला।

चेन्नई में भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला मुकाबला 9 अक्टूबर 1987 को हुआ था। तब चेपॉक में पहली बार कोई वनडे मुकाबला खेला गया था। साथ ही 1987 के वर्ल्डकप का वह तीसरा मैच था।

लेकिन, कंगारुओं के खिलाफ वह मैच भारत ने 1 रन से हार गया था। कपिल देव की कप्तानी में भारत को चेन्नई में मिली उस हार का बदला टीम इंडिया ने 30 साल बाद ले लिया। सबसे बढ़कर तब दोनों मौजूदा कप्तानों विराट कोहली और स्टीव स्मिथ का जन्म भी नहीं हुआ था। रोहित शर्मा और डेविड वॉर्नर दुधमुंहे बच्चे थे और अब महेंद्र सिंह धोनी और हार्दिक पंड्या के जबर्दस्त प्रदर्शन की बदौलत ऑस्ट्रेलिया को मात दी।

1987 के इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने एलन बॉर्डर की कप्तानी में भारत को 271 रनों का लक्ष्य दिया था। जवाब में भारत की टीम 50वें ओवर की पांचवीं गेंद पर 269 रनों पर सिमट गई। मनिंदर सिंह के बोल्ड होते ही भारतीय टीम वह रोमांचक मुकाबला एक रन से हार गई थी। मनोज प्रभाकर दूसरे छोर पर नाबाद रहे. के. श्रीकांत (70 रन) और नवजोत सिद्धू (73 रन) की पारियां काम नहीं आई।