INDvsAUS: माइकल क्‍लार्क ने इसलिए माना वनडे में विराट कोहली को स्‍टीव स्मिथ से बेहतर बल्‍लेबाज

0
40

नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली वनडे में ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ से बेहतर बल्‍लेबाज है. शॉर्टर फॉर्मेट में विराट कोहली की इस श्रेष्‍ठता पर ऑस्ट्रेलिया टीम के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने मुहर लगा दी है. ऑस्‍ट्रेलिया के कामयाब कप्‍तानों में गिने जाने वाले क्‍लार्क का मानना है कि कोहली की अगुआई में भारत के प्रदर्शन में सुधार का सबसे बड़ा कारण यह है कि मौजूदा भारतीय कप्तान हार से नहीं डरते. जीत के लिए वे आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए टीम की अगुवाई करते हैं. क्लार्क ने आज यहां एक चर्चा के दौरान कोहली की कप्तानी की तारीफ करते हुए कहा, ‘मैं हमेशा से सौरव गांगुली की कप्तानी का कायल रहा हूं. वे तारीफ का हकदार है. उन्‍होंने टीम में एक माहौल तैयार किया जिसे महेंद्र सिंह धोनी और कोहली ने अपने अपने तरीकों से आगे बढ़ाया.क्‍लार्क ने कहा कि इस टीम (मौजूदा टीम इंडिया) में निश्चित तौर पर आक्रामकता है. कोहली बेहद आक्रामकता के साथ टीम की अगुआई करते हैं और जीत की कोशिश करते हुए हारने से भी नहीं डरते.’ कोहली और ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा कप्तान स्टीव स्मिथ की बल्लेबाजी और कप्तानी की तुलना के बारे में पूछने पर क्लार्क ने स्वीकार किया कि भारतीय कप्तान बेहतर वनडे बल्लेबाज हैं. उन्‍होंने कहा, ‘विराट कोहली एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बेहतर बल्लेबाज हैं लेकिन दोनों के बीच मामूली अंतर है. दोनों काफी अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन कप्तान के रूप में यह महत्वपूर्ण होता है कि टीम आपके नेतृत्व में कैसा प्रदर्शन कर रही है. मैं स्मिथ को बेहतर टेस्ट बल्लेबाज मानता हूं.’

भारत के पूर्व स्टार बल्लेबाज वीवी लक्ष्मण की नजर में भी कोहली स्मिथ की तुलना में बेहतर कप्तान हैं. उन्होंने कहा, ‘कोहली बेहतर कप्तान हैं. दोनों युवा कप्तान हैं लेकिन हमने देखा है कि टेस्ट में स्टीव स्मिथ पूर्वानुमान लगाने में उतने प्रभावी नहीं हैं. टेस्ट सीरीज के दौरान गेंदबाजी में बदलाव करते हुए उनके फैसले काफी अच्छे नहीं थे.’ लक्ष्मण ने कहा, ‘कोहली को साथ ही धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी की मौजूदगी का भी फायदा मिलता है जो लंबे समय तक टीम की अगुआई कर चुके हैं और काफी सफल रहे हैं.

’लक्ष्मण ने इसके साथ ही कहा कि उन्हें मौजूद भारतीय टीम में कोई कमजोर पक्ष नजर नहीं आता. उन्होंने कहा, ‘श्रीलंका दौरे पर टीम ने आक्रामक क्रिकेट खेला और सभी 9 मैचों में जीत दर्ज की. यह दर्शाता है कि टीम प्रत्येक विभाग में सुधार कर रही है. खिलाड़ी गेंदबाजी, बल्लेबाजी, क्षेत्ररक्षण सभी विभागों में अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहते हैं.’ लक्ष्मण ने कहा, ‘भारतीय टीम प्रत्येक विभाग में काफी संतुलित है और मुझे इस टीम में कोई कमजोर पक्ष नजर नहीं दिखता.’