नोएडा लूट मर्डरः प्रेमी के साथ मिलकर रची थी साज़िश, 3 गिरफ्तार

0
52

यूपी के नोएडा में दिन दहाड़े लूट के इरादे से कोठी में घुसकर गार्ड की हत्या करने वाले बदमाशों को पुलिस ने धरदबोचा है. पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए बताया कि लूट की साजिश घर की एक पूर्व नौकरानी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर रची थी.

मामला नोएडा के सेक्टर-44 का था. पुलिस के मुताबिक वहां कोठी नंबर सी-83 में मनीषा नामक लड़की ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पूरी घटना को अंजाम दिया था. उनके साथ एक अन्य व्यक्ति भी इस घटना में शामिल था, जो अब फरार है. कोठी में प्लंबर बनकर घुसे तीनों आरोपियों के पीछे मनीषा का ही हाथ है.

पुलिस ने बताया कि मनीषा कुछ सालों से इस घर में आती जाती थी. उसकी दो बहनें पहले मेड का काम करती थीं. जिसकी बजह से इस कोठी में मनीषा का भी आना-जाना था. इसी दौरान उसे घर की दौलत के बारे में पता चल चुका था. जिसके बाद उसने अपने बॉयफ्रेंड के और दो अज्ञात व्यक्तियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया.

पुलिस की मानें तो पहले मनीषा घर में गई और आपसी बात-चीत करके बाहर निकल आई. उसी ने लड़कों को अंदर आने के संकेत दिया. तीनों लड़के प्लंबर बनकर घर के अंदर दाखिल हुए. घर में मौजूद एक बुजुर्ग महिला ने अपनी बेटी को जैसे ही फोन कर इनके बारे में पूछना चाहा तभी एक आरोपी ने उनके सिर में तमंचे से वार कर दिया.

जब कुक ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उसे गोली मार दी. चीख-पुकार सुनकर सोसाइटी का गार्ड और पडोसी वहां आ गए. जिन्हें देखकर बदमाश फायरिंग करने लगे. इस बीच गार्ड को गोली लग गई और उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया. लेकिन इसी दौरान एक दूसरे गार्ड ने भाग रहे बदमाशों में से एक को धरदबोचा.

जिसके बाद पूरा मामला खुल गया. पकड़े गए आरोपियो में सोनू निवासी राजस्थान, संदीप निवासी नोएडा सेक्टर 45 और आरती उर्फ मनीषा निवासी ग्राम सदारपुर थाना 39 नोएडा शामिल है. जबकि फरार आरोपी विकास जिला गाज़ियाबाद का रहने वाला है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से एक तमंचा, दो जिंदा कारतूस, एक खोखा कारतूस, एक मंगल सूत्र और घटना में प्रयुक्त सेंट्रो कार और एक पल्सर बाइक बरामद की है.