डेरे में सर्च ऑपरेशन से पहले तैयारी, बम और डॉग स्क्वॉयड टीम सिरसा पहुंची

0
69

सिरसा में डेरे सच्चा सौदा में सर्च ऑपरेशन से पहले की तैयारियां शुरु हो गई है. सिरसा पुलिस की ओर से इसको लेकर पुख्ता इंतजाम कर रही है. बम स्क्वॉयड और डॉग स्क्वॉयड टीम सिरसा पहुंची चुकी है. बताते चलें की पूर्व जज की टीम के आने के बाद डेरे में सर्च ऑपरेशन चलेगा.

बताते चलें कि 25 अगस्त को राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के तुरंत बाद समर्थकों ने हरियाणा के पंचकूला और पांच राज्यों में जमकर उत्पात मचाया था. इस हिंसा में 40 के करीब लोगों की मौत हो गई थी.

सीबीआई ने राम रहीम को सजा सुनाने के लिए 28 अगस्त की तारीख तय की. हिंसा की घटनाओं को देखते हुए राम रहीम को हवाई मार्ग से रोहतक के सुनरिया जेल ले जाया गया. 28 अगस्त को जज जगजीवन सिंह हवाई मार्ग से रोहतक पहुंचे. यहां जेल की लाइब्रेरी को टेम्पररी कोर्टरूम बनाया गया और जज ने दो अलग-अलग मामलों में राम रहीम को 10-10 साल की सजा दी. उन्होंने आदेश दिया कि दोनों सजाएं एक के बाद एक चलेंगी.

बताते चलें कि साल 2002 के साध्वी यौन शोषण मामले में 25 अगस्त को पंचकूला की सीबीआई अदालत ने राम रहीम को दोषी करार दिया था. फैसले से दो दिन पहले से राम रहीम के समर्थक पंचकूला में जुटने शुरू हो गए थे. फैसले वाले दिन पंचकूला में 50 हजार से ज्यादा समर्थक मौजूद थे. वे शहर के पार्कों-सड़कों में रुके थे. खास बात यह है कि समर्थकों की इतनी बड़ी भीड़ के लिए खाने पीने की पूरी व्यवस्था की गई थी.