बिहार के अपने विधायकों बचाने में जुटी कांग्रेस, राहुल ने दिल्ली तलब किया

0
71

बिहार में कांग्रेस विधायकों को टूट से बचाए रखने के लिए पार्टी आलाकमान सक्रिय हो गया है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार शाम 5.30 बजे को बिहार के कांग्रेसी विधायकों से मुलाकात करेंगे. इसी मुद्दे पर पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी और विधायक दल के नेता सदानंद सिंह के साथ चर्चा की थी.

दरअसल पिछले दिनों महागठबंधन से नीतीश कुमार ने नाता तोड़कर बीजेपी से हाथ मिला लिया था और एनडीए की ओर से सत्ता पर काबिज हो गए थे. इसके बाद से ही कांग्रेसी विधायकों की टूट खबरें आने लगी थीं. बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में कांग्रेस के 27 विधायक जीतकर आए थे. कांग्रेस के 27 विधायकों में कम से कम 18 MLAs के नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के संग जाने की खबरें आ रही थीं. यही वजह है कि कांग्रेस आलाकमान नीतीश को घेरने से पहले अपने घर को दुरुस्त करने में जुट गई है. इसी मद्देनजर राहुल बिहार के कांग्रेसी विधायकों के संग मुलाकात कर अपने विधायकों को टूटने से बचाना चाहते हैं.

दरअसल कांग्रेस सुप्रीमो ने बिहार कांग्रेसी विधायकों को टूट की आशंका को देखते हुए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, जेपी अग्रवाल और ज्योतिरादित्य सिंधिया को अलग-अलग भेजा था. इन तीनों नेताओं की रिपोर्ट के आधार पर ही कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बिहार के विधायकों के साथ बैठकर उनकी शंकाओं को दूर करेंगे.

सूत्रों की माने तो राहुल गांधी विधायकों से एक-एक कर मिल सकते हैं. वह इन विधायकों के जरिए जानना चाहते हैं, कि किस नेता के कहने पर और किस तरह का उन्हें प्रलोभन कांग्रेस से अलग होकर जेडीयू के साथ ले जाने की कोशिशें की जा रही हैं.