मोदी कैबिनेट का फॉर्मूला: ब्राह्मण की जगह ब्राह्मण, क्षत्रिय की जगह क्षत्रिय और जाट की जगह जाट

0
46

मोदी कैबिनेट में आज फेरबदल हो रहा है. इसी मद्देनजर कुछ मंत्री ऑउट हुए, तो कुछ नए चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल किया गया हैं. नरेंद्र मोदी अपनी कैबिनेट जरिए 2019 की जंग फतह करना चाहते हैं. इसी मद्देनजर उन्होंने मंत्रिमंडल में जातिसमीकरण का पूरा ख्याल रखा है. ऐसे में अगर जिस समाज के मंत्री को मोदी कैबिनेट से छुट्टी हुई है, उसी समाज के नए मंत्री को जगह भी दी गई है, ताकि किसी तरह का सियासी डैमेज न हो सके.

ब्राह्मण के बदले ब्राह्मण

मोदी कैबिनेट में शामिल रहे है यूपी के दो ब्राह्मण चेहरों की छुट्टी की गई है. इनमें कलराज मिश्रा और महेंद्र नाथ पांडेय शामिल है. ऐसे में पीएम मोदी ने इन दोनों ब्राह्मण चेहरों की जगह ब्राह्मण चेहरे को तवज्जे दी है. मोदी कैबिनेट के नए ब्राह्मण चेहरा शिव प्रताप शुक्ला और अश्ववनी चौबे शामिल हुए हैं.

शिव प्रताप शुक्ला उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद हैं और फिलहाल  वह संसदीय समिति (ग्रामीण विकास) के सदस्य भी हैं. उन्हें राज्यमंत्री बनाया गया है. इसके अलावा अश्विनी कुमार चौबे बिहार के बक्सर से लोकसभा सांसद हैं. वह केंद्रीय सिल्क बोर्ड के मेंबर भी हैं.

वह संसदीय समिति (ऊर्जा) के सदस्य भी हैं. चौबे भी राज्यमंत्री बने हैं. ब्राह्मण मतदाता मौजूदा समय में बीजेपी का कोरवोट बैंक माना जाता है. ऐसे में मोदी ने ब्राह्मण की जगह ब्राह्मण को मंत्री बनाया है.

क्षत्रिय के बदले क्षत्रिय

मोदी कैबिनेट से राजीव प्रताप रू़डी की छुट्टी कर दी गई है. वह बिहार से सांसद हैं और राजपूत समाज से आते हैं. ऐसे में मोदी ने उनकी जगह बिहार से दूसरे क्षत्रिय नेता राज कुमार सिंह (आरके सिंह) को शामिल किया गया है. वह बिहार के आरा से लोकसभा सांसद हैं.

वह बिहार काडर के 1975 बैच के पूर्व आईएएस ऑफिसर हैं. वह फैमिली वेलफेयर पर बनी संसदीय समिति के मेंबर भी हैं. मोदी कैबिनेट में राज्यमंत्री की रुप से रविवार को शपथ ली है. मौजूदा समय में क्षत्रिय मतदाता भी तेजी से बीजेपी के साथ जुड़ा है. ऐसे में मोदी ने क्षत्रिय नेता की जगह क्षत्रिय को ही तवज्जो दिया है.

जाट की जगह जाट

मोदी कैबिनेट से संजीव बालियान की छुट्टी हो गई है. बालियान जाट समाज से आते हैं और यूपी के मुजफ्फरनगर से लोकसभा सदस्य हैं. ऐसे में मोदी ने बालियान की जगह यूपी के दूसरे जाट नेता को अपनी कैबिनेट में शामिल किया है. ये चेहरा सत्यपाल सिंह है, जो जाट समाज से आते हैं.  उन्हें मोदी की नई कैबिनेट में राज्यमंत्री का कार्यभार मिला है.

यूपी उत्तर प्रदेश के बागपत से लोकसभा सांसद हैं. सत्यपाल सिंह ने जाट नेता चौधरी अजित सिंह को हराकर सांसद बने हैं. वह संसदीय समिति (ऑफिस ऑफ प्रॉफिट) के सदस्य भी हैं. वह महाराष्ट्र  काडर के आईपीएस ऑफिसर रह चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here